राजकुमारी के प्यार में पागल एक तांत्रिक के श्राप से आज भी भूतिया है भानगढ़ का किला

0
bhangarh fort real story in hindi

New Hindi News : राजस्थान के भानगढ़ के किले की कहानी जानकर हैरान रह जायेंगे आप राजस्थान के किले अपनी भव्य सुन्दरता के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं| इन किलों की भव्यता देखने के बाद पता चलता है कि यहाँ के तत्कालीन शासक कितनी शानो-शोकत से रहते थे| आज लेकिन कई बार उनके ठाठ-बाट को किसी की बुरी नज़र लग जाती थी तो सब कुछ बर्बाद हो जाता था| ऐसा ही एक किला है भानगढ़ का किला| इस किले को एक दुष्ट तांत्रिक ने अपने श्राप से भूतिया बना दिया| जानिए भानगढ़ के किले की पूरी कहानी …..

भानगढ के किले का इतिहास |

राजस्थान के अलवर जिले में पड़ने वाले भानगढ़ के विषय में सुनकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं| कहा जाता है कि यहाँ रात से समय पायल खनकने की आवाजें आती है| यहाँ भूतों का बसेरा है| इसलिए रात के समय यहाँ जो भी रुकता है वो जिंदा वापिस नही आता| इस किले का निर्माण 15 वीं शताब्दी में करवाया गया था| उस समय ये बहुत समृद्ध था | लेकिन बाद में भूतिया कैसे बना इसके पीछे की कहानी बहुत डरावनी है |

bhangarh fort real story in hindi

Princess of Bhangarh Ratnavati

इस किले का निर्माण आमेर के राजा भगवानदास ने कराया था| भानगढ़ राजा मानसिंह के भाई माधोसिंह की राजधानी भी रहा| मानसिंह के मुग़ल सम्राट अकबर से बहुत ही मैत्रीपूर्ण सम्बंध थे| कहा जाता है कि भानगढ़ की राजकुमारी रत्नावती की सुन्दरता के चर्चे बहुत दूर-दूर तक थे| दुर्भाग्य से उस समय एक तांत्रिक भानगढ़ आया हुआ था| उसने जब राजकुमारी रत्नावती  की सुन्दरता के बारे में सुना तो उससे देखने दरबार में पहुँच गया| उसे देखकर तांत्रिक उस पर मोहित हो गया और औए पाने के लिए अपनी तांत्रिक विद्या का प्रयोग करने लगा|

इसके लिए उसने जिस दुकान से राजकुमारी के लिए इत्र आता था उस दुकान में जाकर उसकी इत्र की बोतल पर जादू-टोना कर दिया कि जो भी इस बोतल के इत्र को लगाएगा उसकी (तांत्रिक की) तरफ खिंचा चला आएगा| लेकिन महल में जाने से पहले ही वो बोतल एक पत्थर पर गिरकर टूट गयी | और इस प्रकार तांत्रिक के ही शाप के कारण वो बड़ा सा पत्थर उसकी तरफ आया और पत्थर लगने से उस तांत्रिक की मौत हो गयी |

मारने से पहले तांत्रिक ने श्राप दिया कि भानगढ़ शीघ्र बर्बाद हो जायेगा| कुछ समय बाद पड़ोसी राज्य से युद्ध हुआ और राजकुमारी रत्नावती समेत सब राजपरिवार ख़त्म हो गया | इस प्रकार भानगढ़ बर्बाद हो गया|