सर्दियों में उत्तम सेहत की गारंटी है मूंगफली और गुड़ का सेवन

0
health benefits of peanuts with jaggery in winter,मूंगफली और गुड

सर्दी के मौसम में शरीर को खास पोषण की आवश्यकता होती है | ऐसे में गुड़ और मूंगफली का एक साथ सेवन रखेगा आपके स्वास्थ्य का भरपूर ख्याल

सर्दी का मौसम हो और मूंगफली की बात न हो ये हो नही सकता, और हो भी क्यों मूंगफली से अच्छी चीज़ जाड़ों में कुछ नही होती | यह सस्ती लेकिन गुणों में बादाम के समान ही होती है | तभी तो मूंगफली को ‘गरीबों का बादाम’ भी कहा जाता है | वैसे तो अकेली मूंगफली भी गुणों से भरपूर होती है लेकिन  यदि गुड़ के साथ इसका मज़ा लिया जाए तो बात ही कुछ और है | इन दोनों का मिश्रण आयुर्वेद के हिसाब से बहुत ही उत्तम माना गया है | इससे शरीर पर सर्दी का असर नही होता शरीर में गर्मी आती  है | गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह आयरन,  मैग्नीशियम व प्रोटीन का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है |

गुड़ व मूंगफली के फायदे

  • गुड़ व मूंगफली हमारी बॉडी को ताकत देती है | सर्दियों में एक्स्ट्रा एनर्जी की आवश्कतापूर्ति के लिए हमे किसी फ़ूड सप्लीमेंट की ज़रूरत होती है | गुड़-मूंगफली का सेवन इसका अच्छा विकल्प हो सकता है |
  • गुड़ में आयरन,  मैग्नीशियम आदि तत्व होते हैं वहीँ मूंगफली में भरपूर प्रोटीन पाया जाता है | अतः इन दोनों के मिश्रण का सेवन मांसपेशियों को  ताकत देता है, रक्त संचार को बढाता है और गर्भवती महिलाओं के रक्त में होमोग्लोबिन की मात्रा को बढाता है
  • गुड़ फेफड़ों के इन्फैक्शन को दूर करता है | अतः सर्दी के कारण हुए फेफड़ों के नुकसान को रोककर इनकी कार्य-क्षमता को बढाता है |
  • बढ़ते बच्चों के लिए यह एक उत्तम आहार है | ऐसे बच्चों को सर्दी में गुड़ के साथ मूंगफली का सेवन ज़रूर करवाना चाहिय | इससे बच्चों की शारीरिक व मानसिक ग्रोथ अच्छे से होती है |

 

यह भी पढ़ें -: ताकि सर्दियों में आपके चेहरे की स्किन रहे नैचुरली सॉफ्ट | अप्लाई करें ये टिप्स

 

  • इनका सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम होती है | इस कारण हृदय-घात की सम्भावना कम हो जाती है |
  • मूंगफली खाने से शरीर में शुगर होने का खतरा कम हो जाता है | यह ब्लड में शुगर की की मात्रा को नियंत्रित करता है | और गुड़ तो इस मामले में पहले से ही अच्छा माना जाता है | आज से लगभग सौ-डेढ़ सौ साल पहले जब भारत में मीठे के रूप में केवल गुड खाया जाता था तब भारत में कोई मधुमेह का शिकार नही होता था | तब चीनी भारत में नही बनती थी | चीनी अंग्रेजों के आने के बाद शुरू हुई |
  • इनका सेवन दिमाग के लिए भी अच्छा है | मूंगफली से यादास्त तेज़ होती है | गुड मस्तिष्क की सूक्ष्म नसों को पोषण देता है |

तो आज ही बेजिझक मूंगफली के साथ गुड़ का सेवन शुरू कर दें | और सर्दियों में अपने शरीर को दें एक अलग ही पोषण |