राज़ ठाकरे बोले दूसरों को पीटकर आयें MNS कार्यकर्ता, खुद पिटे तो पार्टी से बाहर होंगे

0
raj thackeray said mns volunteers are for beating people

महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के मुखिया राज ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं को फटकार लगाते हुए कहा- ‘तुम्हारा  काम लोगों को पीटने का है खुद पीटकर आये तो पार्टी से निकाल दिया जायेगा |

New Hindi News : महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के मुखिया राज ठाकरे अपने विवादित बयानों के लिए हमेशा सुर्ख़ियों में रहते हैं | चाहे उत्तर भारतियों का मुद्दा हो या हिन्दू-मुस्लिम का वो अपनी सख्त बयानबाज़ी के लिए जाने जाते हैं | पिछले दिनों मराठी साइनबोर्ड न लगाने के मुद्दे को लेकर दुकानदारों के साथ हुई झड़प में महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (एमएनएस) के 4 कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हो गए थे | घायल मनसे कार्यकर्ताओं की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थीं | इसके बाद राज़ ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं  की जमकर क्लास ली और उनसे कहा है कि उनका काम लोगों को पीटने का है पिटने का नहीं |ऐसे में अगर कोई कार्यकर्ता कहीं से पिटकर उनके पास आता है, तो वो उसे पार्टी से निकाल देंगे |

अपने आवास पर की बैठक

ठाकरे ने शिवाजी पार्क स्थिति अपने आवास कृष्णकुंज में सोमवार को पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में कहा, ‘अगर अगली बार पीटे गए तो मैं तुम्हें सारे पदों से हटा दूंगा |’ उन्होंने कहा कि अगली बार ऐंटी हॉकर ड्राइव में जाते वक्त यह याद रखें और तैयार रहें कि पिटाई न हो |ठाकरे ने कहा कि आखिर मनसे कार्यकर्ता पर हाथ उठाने की हिम्मत कोई कर कैसे सकता है | अगर हम खुद की रक्षा नहीं कर सकते हैं तो हम लोगों की समस्याओं को प्रमुखता से कैसे उठाएंगे | यह अब कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा | ठाकरे ने कहा कि विक्रोली में हुआ मामला अपमानजनक है, ये दोबारा नहीं होना चाहिए |

मनसे कार्यकर्ताओं का मुंबई में हिंसा करना कोई नया नहीं है | पार्टी के लोग खुलकर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाने बनाते रहे हैं | मनसे कार्यकर्ता उत्तर भारतीयों की दुकानों तक में तोड़फोड़ करते रहे हैं | ऐसे में कई दफा दूसरी तरफ से भी प्रतिक्रिया देखने को मिलती है और मनसे के लोग पीट दिए जाते हैं |

ये भी पढ़ें -: मुलायम सिंह यादव ने भगवान राम के बारे में कहे है ऐसे ओछे शब्द की किसी का भी खून खोल जाये

मराठी साइनबोर्ड बना विवाद की वज़ह

रविवार रात को एमएनएस कार्यकर्ता विक्रोली में फेरीवालों से साइनबोर्ड की भाषा को लेकर भिड़ गए थे | राज ठाकरे के लोगों का कहना था कि फेरीवाले अपने स्टॉल के साइनबोर्ड में मराठी  का इस्तेमाल करें | इस विवाद में एमएनएस के चार कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आईं थीं | इस मामले में एमएनएस के चार और कांग्रेस की तरफ 2 लोगों गिरफ्तार भी किया गया था |